Header Ads

  • ताजा खबरें

    पोलिटीकल टिप्पणी करनेवाले युवक को अगवाह कर बेरहमीसे की पीटाई

    PUNA (Maharashtra Vikas Media) - Five people who came to Pune from Pulus in anger after seeing a political comment on assisting in the floods in Sangli came to know about the incident. After the complaint was registered in Kothrud police station, a case of abduction and beatings was registered against the criminals who were beaten and beaten. The names of the criminals who have been named such as Guru Prasad Dilip Lad, Jagdish Niwas Lad, Suraj Sanjay Lad, Sandeep Lad, Ashutosh Jaywant Lad (all residents, Kundal, Taluka Palus, Sangli) are being reported.  Significantly, the victim Aditya and the culprit are both from the same village and know each other well. After the flood in Palus area, local MLA Dr. Vishwajit Kadam went to help the flood victims. On this, Aditya Lad helps MLA in his village Lad government and flood victims in L group and other WhatsApp group, where is the rest of Ladoba? To put myself in such a post.  Aditya Lad was threatened over the phone by criminals angry over seeing this post. On Tuesday, the five criminals came to Aditya's house in Kothrud in his white car, forcibly packed him in his car and took them to the colony for more than one and a half kilometers on the road leading to Kalewadi. Asked why the defamatory message was inserted and beat it with lath books. The back of the tire's rubber tube and the mouthpiece were also brutally killed. He then left her again at a square near the house. While leaving, the criminals also threatened the victim that you should come to the village and fall to our feet and ask for our forgiveness or else you will be killed. Aditya Lad lodged a complaint in Kothrud police station on complete information of the incident. In this way social media whatsapp was hijacked and beaten on inserting political message.
    पुना (महाराष्ट्र विकास मिडिया)- सांगली में आएहुए बाढ में मदत करने पर पोलिटीकल टिप्पणी करता देख गुस्से में आकर पलूस से पुने में आए हुए पांच लोगों ने युवक को कारमें अगवाह कर उसकी पीटाई करने की मामला मंगलवार शाम को सामने आया। इस मामले की शिकायत कोथरुड पुलिस ठाणे में दर्ज होने के बाद अगवाह कर पीटाई करनेवाले अपराधियों पर अगवाह करनेका और मारपीट का मामला दर्ज हुआ। गुरुप्रसाद दिलीप लाड, जगदीश निवास लाड, सुरज संजय लाड, संदीप लाड, आशुतोष जयवंत लाड (सभी रहनेवाले कुंडल, तालुका पलूस, सांगली) ऐसा अगवान करनेवाले अपराधियों का नाम बताया जा रहा है।
    गौरतलब हो कि, पिडीत आदित्य और अपराधी यह दोनो एक ही गांव के रहनेवाले है और एक दुसरे को अच्छी तरह से जानते पहचानते है। पलूस इलाके में बाढ आने के बाद वहां के स्थानिय विधायक डॉ. विश्र्वजीत कदम ने बाढपिढीतों को मदद करने चले गये। इसपर आदित्य लाड ने उसके गाव के लाड सरकार और एल ग्रुप और अन्य व्हॉट्सअॅप ग्रुप में बाढ पिढीतों को विधायक साहब मदद करते है, बाकीके लाडोबा कहां पर है? खुदका लाड करने  ऐसी पोस्ट डाली।
    इस पोस्ट को देख गुस्सा होकर अपराधियों ने आदित्य लाड को फोन पर धमकाया था। मंगलवार को पांचों अपराधियों ने अपने सफेद रंग के कार में कोथरुड स्थित आदित्य के घर आए, उन्हे जबरन अपने कार में बिठाकर देड किलोमीटर दुर पौडफाटा से केलेवाडी की ओर जानेवाले सढक पर मोरे श्रमिक वसाहत पर ले गये। बदनामी करनेवाला मेसेज क्यों डाला ऐसा पुछकर लाथ बुक्कों से उसकी पीटाई की। टायर के रब्बर ट्यूब से पीठपर, मुंहपर भी बेरहमी से मारा गया। उसके बाद फिर से उसे घर के पास ही के एक चौक पर छोड दिया। छोडते वक्त अपराधियों ने पिडीत को धमकी भी दी कि तु गांव में आकर हमारे पैर पडकर हमारी माफी मांगनी होगी अन्यथा तुझे जान से मार डालेंगे। आदित्य लाड ने घटना की पुरी जानकारी कोथरुड पुलिस थाने में शिकायत देने पर अपराधियों पर अपहरण एवं मारामारी करने का मामला दर्ज किया। इसप्रकार सोशल मिडिया व्हॉट्सअॅप में पोलिटिकल मेसेज डालने पर अपहरण एवं मारपीट किया गया।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad