Header Ads

  • ताजा खबरें

    पद्मसिंह पाटील के सुपुत्र भाजपा में जाने की तैय्यारी में...

    Osmanabad (Badlapur Development Media): - The NCP is likely to face another major blow to the state. It is because of the possibility that the senior leader of the NCP, Padmasinh Patil, Chiranjeev and MLA Rana Jagjitsinh Patil are going to BJP. Discussions have also started in the district that Rana Jagjit Singh Patil has resigned from his MLA.  Rana Jagjit Singh Patil was nominated by the NCP from Osmanabad constituency in the Lok Sabha elections. But they lost in the elections. It was announced that he would enter the BJP within a few days. Now, Rana Patil has avoided mentioning the MLA in the photo shared on the occasion of Goat Eid. Therefore, he has emphasized the debate over his resignation of MLA.  In the last few days, many leaders have waited for the ruling party to abandon the NCP. These include senior leaders Madhukar Pichad, Sachin Ahir. Also, Navi Mumbai's great leader of NCP Ganesh Naik Hedil is reported to be entering the BJP soon. Therefore, the NCP is in trouble before the Assembly elections. Meanwhile, the NCP's leadership has taken serious note of the outgoing of the leaders.  Therefore, the NCP will adopt the same style of BJP to quit the upcoming assembly elections. It is learned that the NCP leadership has started the inquiry into whether the dissatisfied leader of the ruling party is embroiled in the constituency of the NCP leaders. It is also known that the NCP will take special efforts to defeat the leaders who have transformed the young leaders in the constituency.
    उस्मानाबाद (महाराष्ट्र विकास मिडिया)- राष्ट्रवादी कांग्रेस को राज्य में बडे बडे धक्के लगने की संभावना जताई जा रही है। क्योंकि राष्ट्रवादी के वरिष्ठ नेता पद्मसिंह पाटील के सुपुत्र एवं पूर्व विधायक राणा जगजीतसिंह पाटील भारतीय जनता पार्टी में जाने की संभावनाएं नजर आ रही है। राणा जगजीतसिंह पाटील ने अपने विधायक पद से इस्तीफा देने की भी जिला में चर्चा शुरु है।
    राणा जगजीतसिंह पाटील को राष्ट्रवादी के उस्मानाबाद लोकसभा क्षेत्र से चुनाव में उम्मीदवारी दी थी। लेकिन चुनाव में उनकी हार हुई। उसके बाद वे कुछ दिनों में भारतीय जनता पार्टी में जाने की बात जिला में सभी के मुह से सुनने को मिल रही थी। अब बकई ईद की शुभकामनाए वाले पोस्ट फोटो जो उन्होंने शेअर किया है उसमें उन्होंने विधायक पद का भी उल्लेख नहीं किया। जिससे उन्होंने विधायक पद का इस्तीफा देने की और भी ज्यादा चर्चा हो रही है।
    पिछले कई दिनों से कई नेताओं ने राष्ट्रवादी को अच्छा तो हम चलते है कहकर सत्तापक्ष पार्टी में प्रवेश किया। इस में वरिष्ठ नेता मधुकर पिचड, सचिन अहिर इन नेताओं का भी समावेश है। साथ ही नवी मुंबई के राष्ट्रवादी के जानेवाने वरिष्ठ नेता गणेश नाईक भी भारतीय जनता पार्टी में प्रवेश की जानकारी उन्होंने दी। जिसके चलते विधानसभा चुनाव के पहले ही राष्ट्रवादी पार्टी समस्या में आ चुकी है। दरम्यान, नेताओं के आऊटगोईंग को राष्ट्रवादी में गंभिरतापुर्वक लिया है।
    जिसकी कारण पार्टी से बाहर निकले नेताओं को आनेवाले विधानसभा चुनाव में कई उलझनों में राष्ट्रवादी पार्टी अटकाकर भाजपा का ही पैंतरा आजमा सकती है। राष्ट्रवादी छोडे हुए नेताओं के चुनाव क्षेत्र में सत्तापक्ष के नाराज नेता से संपर्क करने में राष्ट्रवादी जुटी है। इसपर पार्टी द्वारा चर्चा बैठक भी चल रही है। साथ ही चुनाव क्षेत्र में नए चेहरे और युवाओं को पूरी शक्ती देकर पार्टी छोडे हुए नेताओं को हराने के लिए राष्ट्रवादी विशेष मेहनत लेनेवाली है।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad