Header Ads

  • ताजा खबरें

    लिफ्ट देने के बहाने सोने की चेन खेंचकर भागनेवाले चोर को पोलादपुर पुलिस ने तीन घंटों के भितर धरदबोचा

    Poladpur (Maharashtra Vikas Media) - Three of the thieves who stole a gold chain of leash and tore it by taking him to Sumasam on the pretext of giving a lift to a passenger on the Mumbai Goa National Highway outside the Poladpur ST bus stand, to go to Mumbai. Within hours, the Poladpur police have arrested such information given by the PRO department of Raigad District Police Officer. Manohar Babaji Surve, a resident of Turbhe Khurd Golachi Wadi in Poladpur taluka, stood at 11 am on Saturday on the Mumbai-Goa National Highway outside the Poladpur ST bus stop to go to Mumbai. At that time, an unknown person riding in a black pulsar told Surve that he was standing to catch a bus to go to Mumbai when asked. On this, an unknown person said that I will also go by a shortcut on the way to Mahad for the bus to Mumbai. After which, while sitting on Surve Baik, both of them went to some distance and asked Manohar Surve to stop the bike to urinate. At that time, the said person stopped the bike and after running a chain worth about 45 thousand rupees of gold weighing around the neck of Surve, ran towards Mahad on the way of Nagav. According to the guidance of the senior police inspector, Jadhav, assisted by senior police inspector, went to Vinhera village with his ward ward Khot Ghorpade as per the guidance of senior police inspector after Manohar Surve immediately informed about the incident at the Poladpur police station. On the way, when the police asked the people about the Baikaswar driving a black bike, the said bike is Bhavesh Anant Vankar, a resident of Karanjadi Sutarkond. After telling the police that the criminal stealing the chain is now going in the direction of Mahadki, Assistant Police Inspector Jadhav and his Tim went to Mahad and took the criminal from his possession and recovered the gold chain of stolen dera tole from him. After filing the complaint of Firdi Manohar Babaji Surve, F.I.R. No. 36-2019 Indian Penal Code 392 Police has registered a case under the pen and has now sent him behind bars.
    पोलादपुर (महाराष्ट्र विकास मिडिया)- पोलादपूर एसटी बस स्टैंड के बाहर मुंबई गोवा राष्ट्रीय हाईवे पर मुंबई जाने के लिए रुके हुए यात्री को लिफ्ट देने के बहाने उसे सुमसाम जगह ले जाकर उसके गले की देढ तोले की सोने की चेन चुराकर भागने वाले चोर को तीन घंटों के अंदर पोलादपूर पुलिस ने गिरफ्तार किया है ऐसी जानकारी रायगड जिला पुलिस अधिक्षक के पीआरओ डिपार्टमेंट ने दी।
    पोलादपूर तालुका के तुर्भे खुर्द गोल्याची वाडी के रहिवासी मनोहर बाबाजी सुर्वे मुंबई जाने के लिए पोलादपूर एसटी बस स्टॉप के बाहर मुंबई - गोवा राष्ट्रीय हाईवे पर शनिवार को 11 बजे के करिब खडे थे। उस वक्त काले रंग के पल्सर में सवार एक अज्ञात व्यक्ति ने सुर्वे से कहा जा रहे है ऐसा पुछने पर मुंबई जाने के लिए बस पकडने के लिए खडा हुं ऐसा उन्होंने कहा। इसपर अज्ञात व्यक्ति ने मै भी मुंबई जाने के लिए बस के लिए महाड जानेवाला हुं काटेतळी विन्हरे के रास्ते शॉर्टकट से दोनों जाएंगे ऐसा कहा। जिसके बाद सुर्वे बाईक पर बैठकर दोनों कुछ ही दुरी पर जाते वक्त मनोहर सुर्वे को पेशाब करने के लिए बाईक रुकाने को कहा। उस वक्त उक्त व्यक्ति ने बाईक रोककर सुर्वे के गले की देढ तोले वजन की सोने की लगभग 45 हजार रुपये कीमत की चेन खेंचकर नागाव के रास्ते महाड की दिशा में भाग गया।
    इस घटना की जानकारी मनोहर सुर्वे ने तुरंत ही पोलादपूर पुलिस थाने में देने के बाद मामले की गंभिरता को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक के मार्गदर्शन के अनुसार सहाय्यक पुलीस निरीक्षक जाधव अपने साथ वार्डे खोत घोरपडे पुलिस कर्मचारी को लेकर विन्हेरे गाव की ओर चले गये। रास्ते पर पुलिस ने जब लोगों से काले रंग के बाईक को चलाने वाले बाईकसवार के बारे में पुछताछ की तब उक्त बाईकस्वार करंजाडी सुतारकोंड का रहनेवाला भावेश अनंत वाळणकर है ऐसी जानकारी दी। चेन चुराने वाला अपराधी अब महाडकी दिशा में जाने की बात पुलिस को बता चलने के बाद सहाय्यक पुलिस निरीक्षक जाधव और उनके टिम ने महाड जाकर अपराधी को अपने गिरफ्त में लेकर उसके पास से चोरी किया गया देढ तोले की सोनेकी चेन बरामद की। फिर्यादी मनोहर बाबाजी सुर्वे की शिकायत दाखल करने के बाद एफ.आय.आर. नं. 36-2019 भारतीय दंड संहिता 392 कलम अंतगर्त अपराधी पर मामला दर्ज कर पुलिस ने उसे अब जेल की सलाखों के पिछे भेजा है।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad