Header Ads

  • ताजा खबरें

    बदलापूर पश्चिम बैरेज रोड कि पुलिस चौकी या 'सेटलमेंट' का अड्डा ?

    Badlapur (Maharashtra Development Media) - Barrage Road Police Outpost in Badlapur West Department is currently becoming a topic of discussion in the city. In this police post, some corrupt police personnel of Badlapur West Police Station only use the outpost for bribery, such is the discussion in the city.  A few years ago, Ashok Ghorpade, Municipal Councilor (Corporator) of Kulgaon Badlapur Municipal Corporation, constructed a police checkpoint on Barrage Road for the Badlapur West Police Administration free of cost by some contractors to protect the citizens of his division. From that time till today, the police station works only to make corrupt police settlement, it is the common citizens of the city.  A handgun dealer selling Andapaw of Barrage Road, on the condition of anonymity, said that the Barrage Road outpost is an economic branch of Badlapur West Police Station. Here all the transactions are done by corrupt police personnel.  A driver from Badlapur Ganesh Nagar told Maharashtra Vikas Media on the condition of anonymity that, for the sake of the corrupt police money of Badlapur West Police Station, call any citizen at this barrage outpost. There he dabbles, bullying his khaki uniform and threatens to take legal action and demands money. All the handlers (bribes) of their months, from handgrippers to handlers, give Badlapur West Police Station to this barrage road post.  A retired policeman told Maharashtra Vikas Media, on the condition of anonymity, that several times when the corrupt police of Badlapur West police caught an infamous criminal, he was brought to the barrage road post. Settlement of the case is done by taking money from him there and from there the criminal is released. Many times, to see the path of the sand truck, sitting in the same barrage road post, the bribe policemen wait to halter the goat. Many times, bribe policemen of Badlapur West Police Station also stop the rickshaw pullers at night and bring them to the barrage road post. Needless to sit there for two-two hours. In spite of having all the RC, license and permit, the garib driver who drives the rickshaw is kept on the outpost of the barrage road. Finally, when the driver earns 200-300 policemen hard earned money, then he is released from the barrage road post.  The former corporator of the Kulgaon Badlapur municipality, on the condition of anonymity, told Maharashtra Vikas Media that Badlapur West police station is demanding money to pay for the program, a padyatra, a movement for public movement. So that money is taken in the barrage road post itself. Many times this police post is used in the case of murder. The friars and criminals are summoned to this post to take money from both of them and threaten to show the khaki uniform and threaten to suppress the case.  Badlapur West Police Administration is already infamous throughout the city due to bribery. In such a situation, now the people of Badlapur West city are fed up with these bribery policemen after seeing the discussion of Gorakhandhande and bribery in their police post on Badlapur West Barrage Road. Citizens demand that the Thane Anticorruption Bureau should take concrete steps to stop the bribery going on at the Barrage Road Police Outpost in Badlapur West.
    बदलापूर (महाराष्ट्र विकास मिडिया)- बदलापूर पश्चिम विभाग में बैरेज रोड की पुलिस चौकी हाल फिलहाल शहर में चर्चा का विषय बन रहा है। इस पुलिस चौकी में बदलापूर पश्चिम पुलिस थाने के कुछ भ्रष्ट पुलिस कर्मी सिर्फ रिश्वतखोरी के लिए चौकी का इस्तेमाल करते है ऐसी शहर में चर्चा है।
    कुछ साल पहले कुलगांव बदलापूर नगरपालिका के नगरपार्षद (नगरसेवक) अशोक घोरपडे ने अपने प्रभाग के नागरिकों की सुरक्षा के हेतु से कुछ ठेकेदारों की मदत से बदलापूर पश्चिम पुलिस प्रशासन के लिए मुफ्त में बैरेज रोड पर एक पुलिस चौकी का निर्माण किया। उस वक्त से लेकर आज तक उस पुलिस चौकी में सिर्फ और सिर्फ भ्रष्ट पुलिस सेटलमेंट करने का काम करती है ऐसा शहर के आम नागरिकों का आरोप है।
    बैरेज रोड के अंडापाव बेचनेवाले एक हाथगाडी वाले ने अपना नाम न छापने की शर्त पर बताया कि, बैरेज रोड की चौकी मानों बदलापूर पश्चिम पुलिस थाने का आर्थिक ब्रांच है। यहां पर सारे लेन देन की बातें भ्रष्ट पुलिस कर्मियों द्वारा किया जाता है। 
    बदलापूर गणेश नगर के एक वाहन चालक ने अपना नाम न छापने की शर्त पर महाराष्ट्र विकास मिडीया को बताया कि, बदलापूर पश्चिम पुलिस थाने के भ्रष्ट पुलिसवाले पैसों के खातिर किसी भी नागरिक को इस बैरेज की चौकी पर बुलाते है। वहां पर दमबाजी करते है, अपने खाकी वर्दी का धौस जमाकर कानूनी कार्यवाही करने की धमकी देते है और पैसों की मांग करते है। हाथगाडी वालों से लेकर ठेलेवालों तक सभी अपने महिने का हफ्ता (घूस) बदलापूर पश्चिम पुलिस थाने को इसी बैरेज रोड की चौकी में लाकर देते है।
    एक रिटायर पुलिस कर्मी ने महाराष्ट्र विकास मिडिया को अपना नाम न छापने की शर्त पर बताया कि, कई बार जब बदलापूर पश्चिम पुलिस के भ्रष्ट पुलिस किसी कुख्यात अपराधि को पकडते है तो उसे बैरेज रोड की चौकी पर लाया जाता है। वहां पर उससे पैसे लेकर केस का सेटलमेंट किया जाता है और वहीं से उस अपराधि को छोड दिया जाता है। कई बार तो रेती के ट्रक की राह देखने के लिए भी इसी बैरेज रोड की चौकी में बैठकर रिश्वतखोर पुलिसवाले बकरे को हलाल करने का इंतजार करते है। कई बार तो बदलापूर पश्चिम पुलिस थाने के रिश्वतखोर पुलिसवाले रात के समय रिक्षा चलानेवालों को भी रुकाकर उन्हे बैरेज रोड की चौकी में लाते है। बेवजहब वहां पर उसे दो-दो घंटे बिठाकर रखते है। आर.सी., लाईसेंस, परमिट सब रहने के बावजुद बैरेज रोड के चौकी पर रिक्षा चलानेवाले गरिब ड्रायव्हर को बिठाकर रखा जाता है। आखिरकार ड्रायव्हर जब मेहनत का कमाया 200-300 पुलिस वालों को घुस देता है तब जाकर उसे बैरेज रोड की चौकी से छोड दिया जाता है।
    कुलगांव बदलापूर नगरपालिका के पूर्व नगरसेवक ने अपना नाम न छापने की शर्त पर महाराष्ट्र विकास मिडिया को बताया कि, बदलापूर पश्चिम पुलिस थाने सार्वजनिक सढक पर कार्यक्रम से लेकर पदयात्रा, आंदोलन के लिए भी परवानगी (परमिशन) देने के लिए जब पैसों की मांग करती है तो वह पैसे बैरेज रोड की चौकी में ही लिया जाता है। कई बार इस पुलिस चौकी का इस्तेमाल मारपिट के केस में चुलाह करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। फिर्यादी और अपराधी दोनों को इस चौकी पर बुलाकर दोनों से पैसे लेकर खाकी वर्दी का धौस दिखाकर डरा धमकाकर केस दबाने का काम किया जाता है।
    बदलापूर पश्चिम पुलिस प्रशासन पहले ही रिश्वतखोरी के चलते पुरे शहर भर में बदनाम है। ऐसे में अब बदलापूर पश्चिम बैरेज रोड स्थित उनकी पुलिस चौकी में हो रहे गोरखधंदे और रिश्वतखोरी की चर्चा देख इन रिश्वतखोर पुलिस वालों से अब बदलापूर पश्चिम शहर की जनता तंग आ चुकी है। ठाणे एंटीकरप्शन ब्युरो ने बदलापूर पश्चिम के बैरेज रोड पुलिस चौकी में चल रहे रिश्वतखोरी को रोखने के लिए ठोस कदम उठाने चाहिए ऐसा नागरिकों की मांग है।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad