Header Ads

  • ताजा खबरें

    मुरबाड विधानसभा के लिए इसबार नंदकिशोर रामभाऊ पातकर को तिकीट देने का विचार कर रही है भाजपा

    Badlapur (Maharashtra Vikas Media) - This time in the Murbad assembly constituency, the Bharatiya Janata Party may also consider giving the election ticket to senior former Municipal Engineer Nandakishore (Ram Patkar) Patkar besides Kisan Kathore. Is.  It may be recalled that Nandakishore (Rambhau) Patkar had been the city president in Kulgaon Badlapur municipality for 9 years as well as he is a loyal worker of the Bharatiya Janata Party. He started the party's work in Badlapur city since when the BJP called Badalpur was considered a small party. From that time, Nandakishore Patkar continued to move along with other office bearers and cadres to strengthen the BJP in Badlapur. He, as the Mayor, carried out many development works in Kulgaon Badlapur Municipality, one of which is the Virasavarkar bridge, which caused the traffic problem of East and West of Badlapur to be solved at that time. He made big plans in the city for a total of 9 years during the administration. Today, the big 2-and-4-lane road in Badlapur city was approved at the time of former city president Nandakishore (Rambhau) Patkar. He planned to solve many problems not only in his division but also in the whole Badlapur city from solving the water problem to dumping ground in which many schemes were successful. When Nandakishore Rambhau Patkar took over the administration of Kulgaon Badlapur municipality, the city was taken in the direction of development, whatever big plans started and completed today, they were mostly approved during Nandakishor Rambhau Patkar's tenure. . From the local level to the senior level, Nandakishore Patkar has a cordial relationship with the big leaders of the Bharatiya Janata Party which he always used in the interest of the city. Despite holding 9 years of Kulgaon Badlapur municipality, they still live in a simple and simple way, their ingenuity and ease of living are still clearly seen today. They formed an army of workers in the Bharatiya Janata Party in Murbad and Badlapur city. They were still standing like a rock with Patkar. Just like the present MLA Kisan Kathore brings millions of rupees fund from the government, just like Nandakishore (Rambhau) Patkar, the former BJP president of the city for the development of the city, also tries to bring funds to the administration by following up on many schemes of the government. Patkar has a wonderful experience of handling the Kulgaon Badlapur municipality for 9 years and he is also highly educated and as a MLA, he can handle the command of Murbad as a MLA. At the same time, the party is considering to give them an election ticket this time as there are no allegations like murder, half-murder, land scam, cheating on them. Let us say, at the time of the scandal in the tender of administrative building in Kulgaon Badlapur municipality, some politicians tried to put their name in the MIR with the intention of ending Nandkishore Patkar's political career. After all, he was not scared, he knew that he had done nothing wrong, so he was not arrested in the court as the culprit. Bell has achieved a revolution katakatakara anticipation for what he had not done anything. He cooperated fully with the police in the case and demanded strict action against the guilty.  In fact, after 9 years of becoming the city president, thinking that his next CD may be the MLA, some political parties have tried their best to bring them back on the back foot by conspiring with the leaders, but those who work in the interest of the public have to do this. Nandakishore Patkar proved that it is very difficult to get rid of such crimes and to discredit them.  Interestingly, the present MLA Kisan Kathore is also from the Bharatiya Janata Party but due to the many criminal cases being filed on his day, his image has worsened in the public and this time the party is planning to give an opportunity to the old and loyal worker. Nandakishore (Rambhau) Patkar is getting a full look at getting this time's Murbad assembly election ticket.  According to secret sources, senior leaders of the party have also asked for Nandakishore Patkar's biodata in Mumbai and have taken an interview as their candidate, but this is yet to be confirmed.  In this election, the present MLA Kisan Kathore is demanding the loyal BJP workers not to give the election ticket once again, their party leaders are now strongly opposed to them. If in the future once again the BJP government is formed, then the name of Ravindra Chavan for the post of minister is on the first list and Ganesh Naik, who is known as the powerful leader of the Thane district, also has to be given the minister. The sources say that the idea of ​​making Badia Nandakishore Patkar as a MLA is due to controversy for the cabinet by making MLA.
    बदलापूर (महाराष्ट्र विकास मिडिया)- मुरबाड विधानसभा क्षेत्र में इस बार भारतीय जनता पार्टी वर्तमान विधायक किसन कथोरे के अलावा वरिष्ठ पूर्व नगरअध्यक्ष इंजिनिअर नंदकिशोर (राम पातकर) पातकर को भी चुनाव तिकीट देने के बारे में विचार कर सकती है ऐसी गुप्त सुत्रों से जानकारी मिली है।
    गौरतलब हो कि, नंदकिशोर (रामभाऊ) पातकर पूरे 9 साल कुलगांव बदलापूर नगरपालिका में नगराध्यक्ष रह चुके थे साथ ही भारतीय जनता पार्टी के वे एक निष्ठावान कार्यकर्ता है। उन्होंने बदलापूर शहर में तब से पार्टी का काम शुरु किया था जब बदलापूर में राष्ट्रीय पार्टी कहलाए जानेवाले भाजपा को एक छोटीसी पार्टी माना जाता था। उस वक्त से नंदकिशोर पातकर ने बदलापूर में भाजपा मजबुत करने के लिए अन्य पदाधिकारीयों और कार्यकर्ताओं को साथ में लेकर चलते रहे। उन्होंने नगराध्यक्ष के रुप में कुलगांव बदलापूर नगरपालिका में कई विकास कामों को अन्जाम दिया जिनमें से एक तो विरसावरकर पुल है जिसके कारण बदलापूर पूर्व और पश्चिम की यातायात समस्या उस वक्त हल हुई। उन्होंने कुल 9 साल प्रशासन में रहते हुए शहर में बडी बडी योजनाएं बनाई, आज बदलापूर शहर में जो बडी-बडी 2 और 4 लेनवाली सड़क है वे पूर्व नगरअध्यक्ष नंदकिशोर (रामभाऊ) पातकर के समय मंजुर हुए थे। उन्होंने उस वक्त अपने प्रभाग में ही नही बल्कि पुरे बदलापूर शहर में पानी की समस्या को हल करने से लेकर डंपिंग ग्राऊंड तक कई सारी समस्याओं को हल करने की योजनाएं बनाई जिसमें बहुत सारी योजनाएं सफल भी हुए। नंदकिशोर रामभाऊ पातकर ने जब कुलगांव बदलापूर नगरपालिका का प्रशासन संभाला था उस वक्त शहर को विकास की दिशा में ले जाया गया, आज जो भी बडी बडी योजनाएं सुरु है और पुरी हो चुकी है वे ज्यादा तर नंदकिशोर रामभाऊ पातकर के कार्यकाल में ही मंजुर हुए थे। स्थानिय स्तर से लेकर वरिष्ठ स्तर तर भारतीय जनता पार्टी के बडे बडे नेताओं के साथ नंदकिशोर पातकर के मधुर संबंध है जिसका उन्होंने शहर हित में हमेशा उपयोग किया। 9 साल कुलगांव बदलापूर नगरपालिका संभालने के बावजुद वे आज भी बडे ही साधे और सरल तरिके से रहते है उनके पहनावे और रहन सहन में आज भी सरलता साफ तौर से देखने को मिलता है। उन्होंने मुरबाड और बदलापूर शहर में जो उस वक्त भारतीय जनता पार्टी में कार्यकर्ताओं की फौज बनाई थी वे आज भी पातकर के साथ चट्टान की तरह खडे रहते थे। जिसप्रकार आज वर्तमान विधायक किसन कथोरे सरकार से करोडो रुपयों का फंड लाते है ठिक उसी प्रकार शहर के विकास के लिए भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष नंदकिशोर (रामभाऊ) पातकर भी सरकार की कई योजनाओं में फोलोअप लेकर प्रशासन को फंड लाने की कोशिश करते है। 9 साल कुलगांव बदलापूर नगरपालिका संभालने का एक बढिया अनुभव पातकर को है और वे उच्च शिक्षित भी है जिसके चलते मुरबाड विधानसभा में विधायक के तौर पर वे मुरबाड की कमान संभाल सकते है। साथ ही उनके उपर किसी भी प्रकार के हत्या, हाफ-मर्डर, जमिन घोटाला, चिटींग जैसे आरोप ना होने से पार्टी उन्हे इस बार का चुनाव तिकीट देने के लिए सोचविचार कर रही है। बता दें कि, कुलगांव बदलापूर नगरपालिका में जिस वक्त प्रशासकिय भवन निर्माण के टेंडर में घोटाला होने की बात सामने आई थी उस वक्त नंदकिशोर पातकर के राजनैतिक करिअर को खत्म करने के इरादे से कुछ राजनैतिकों ने उनका भी नाम एमआयआर में डालने का प्रयास किया लेकिन इसके बाद भी पातकर डरे नहीं, उन्हे पता था कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है इसलिए उन्होंने कोर्ट में जिसप्रकार अपराधी गिरफ्तार ना होने के लिए चक्कर काटकाटकर एंटीसिपेटरी बेल हासिल करते है उन्होंने वैसा कुछ भी नहीं किया। पुलिस को उक्त मामले में उन्होंने पुरा सहयोग किया और दोषीयों पर कडी कार्यवाही की मांग भी की।


    दरअसल, 9 साल नगर अध्यक्ष बनने के बाद उनकी अगली सिडी विधायक पद की हो सकती है यह सोचकर ही कुछ राजनैतिक दलों ने नेताओं ने षडयंत्र करते हुए उनपर केस कर उन्हे बैकफुट पर लाने की पुरी कोशिश की लेकिन जनता के हित में काम करनेवाले को इस प्रकार झुठे अपराधों में अटकाकर बदनाम करना बडा ही मुश्किल होता है यह नंदकिशोर पातकर ने साबित किया।
    गौरतलब हो कि, वर्तमान विधायक किसन कथोरे भी भारतीय जनता पार्टी के है लेकिन उनपर आए दिन कई सारे अपराधिक मामले दर्ज होने से उनकी छवी जनता में खराब होने से पार्टी इस बार पुराने और निष्ठावान कार्यकर्ता को एक मौका देने का मन बना रही है जिसके चलते नंदकिशोर (रामभाऊ) पातकर को इस बार का मुरबाड विधानसभा चुनाव तिकीट मिलने के पुरे आसार देखने को मिल रहा है।


    गुप्त सुत्रों के अनुसार पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने मुंबई में नंदकिशोर पातकर का बायोडेटा भी मंगाया है और उनका एक इंटरव्यु भी उम्मीदवार के तौर पर लिया है लेकिन इस बात भी अभी पुष्टी नहीं हो पा रही है।
    इस बार के चुनाव में वर्तमान विधायक किसन कथोरे को पार्टी ने फिर एक बार चुनाव तिकीट ना देने की निष्ठावान भाजपाई कार्यकर्ताओं की मांग है, उन्ही के पार्टी के नेता अब उनका जोरदार विरोध कर रही है। भविष्य में अगर फिर एक बार भाजपा की सरकार बनी तो मंत्री पद के लिए रविंद्र चव्हाण का नाम पहले लिस्ट पर है और गणेश नाईक जो कि ठाणे जिला के पावरफुल नेता के रुप में जाने जाते है उनको भी मंत्रीपद देना है ऐसे में किसन कथोरे को फिर विधायक बनाकर मंत्रीपद के लिए विवाद होने से बडीया नंदकिशोर पातकर को विधायक बनाया जाए ऐसा सोच विचार भाजपा के हायकमांड कर रहे है ऐसी सुत्रों से जानकारी मिलती है।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad