Header Ads

  • ताजा खबरें

    कल्याण के रिक्षा चालकों ने फिर शुरु की अपनी मनमानी ; ले रहे है दोगुना किराया

    Kalyan (Maharashtra Vikas Media) - After the Kalyan Traffic Branch has taken action in accordance with Motor Vehicle Act for a few days, once again the Rickshaw operator of Kalyan city has landed on its arbitrary.  The rickshaw pullers are demanding 40 rupees from the Kalyan station to visit the development apartment.  In fact, the development apartment from Kalyan Station is just 1 km away. It costs only Rs 18 per meter to get there. But now the traffic police have taken advantage of this by ignoring the rickshaw pullers of Kalyan city, once again landing on their arbitrary. As soon as you hear the development apartment, they tell you about 40 rupees rent. What is special is that, complying with all the rickshaws, saying 40 rupees kiyana is forcing passengers to pay 40 rupees instead of 18 rupees. In protest against this, a vigilant traveler from Kalyan has posted a social video on social media making a video of these arbitrary rickshaws.  How can the rickshaw pullers, despite the welfare traffic police, dare the passengers to get double fares like this? Is the traffic police giving rickshaw week even in this arbitrary and double fares due to which the traffic police are hiding?
    कल्याण (महाराष्ट्र विकास मिडिया)- कल्याण वाहतुक शाखा ने कुछ दिनों तक मोटर वेहिकल अॅक्ट के अनुसार कार्यवाही करने के बाद भी  कल्याण शहर के रिक्षाचालक अपनी मनमानी पर उतरे है । कल्याण स्टेशन से विकास अपार्टमेंट जाने के लिए रिक्षावाले यात्रीयों से 40 रुपये किराया मांग रहे है।
    दरअसल, कल्याण स्टेशन से विकास अपार्टमेंट सिर्फ 1 किलो मिटर की दुरी पर है। वहां जाने के लिए मिटर के हिसाब से सिर्फ 18 रुपये का किराया बनता है, लेकिन अब ट्राफिक पुलिस कल्याण शहर के रिक्षावालों पर ध्यान ना देने से रिक्षावाले इस बात का पूरा फायदा उठाते हुए फिर एक बार अपनी मनमानी पर उतरे है। विकास अपार्टमेंट सुनते ही वे सिधे 40 रुपया किराया बताते है। विशेष बात तो यह है कि, सभी रिक्षावाले संगनमत करते हुए 40 रुपये कियाना कहने से मजबुरन यात्रीयों को 18 रुपयों की जगह 40 रुपये किराया देना पड रहा है। इसके विरोध में कल्याण के एक जागृक यात्री ने इन मनमानी करनेवाले रिक्षाचालकों का एक व्हिडीओ बनाकर सोशल मिडियापर पोस्ट किया है।


    कल्याण ट्राफिक पुलिस के होते हुए रिक्षाचालक यात्रीयों से इस तरह दोगुना किराया लेने की हिम्मत कैसे कर रहे है? क्या इस मनमानी और दोगुने किराये में ट्राफिक पुलिस को भी रिक्षाचालक हफ्ता दे रहे है जिसके कारण ट्राफिक पुलिस रिक्षा चालकों के मनमानी रवैय्ये पर ध्यान नहीं दे रही ऐसी भी कल्याण शहर में चर्चा है।

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad